अपना मोबाइल हैकिंग से कैसे बचाएँ


आपका मोबाइल आपके व्यक्तिगत जीवन के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, इसमें आपकी सबसे व्यक्तिगत जनकारियाँ, सम्पर्क, संदेश, फ़ोटो, विडीओ, ईमेल और हर अन्य महत्वपूर्ण जनकारियाँ और सूचनाएँ होती है।

इसलिए इसके हैक हो जाने पर आपके लिए बड़े नुक़सान का कारण बन सकता है और आपकी जनकारियाँ ग़लत हाथ में जाने पर आपको बड़े ख़तरे का सामना भी करना पड़ सकता है,

इसलिए आवश्यक है कि आप अपने मोबाइल को हैकिंग से बचाने के लिए उपाय पहले से ही करके रखें, आइए जानते है अपने मोबाइल को हैक होने से सुरक्षित रखने के लिए क्या क्या सावधानियाँ ज़रूर रखनी चाहिए।


इन उपायों से अपने मोबाइल को हैक होने से बचाएँ

1. अपने मोबाइल पर पिन लॉक चालू रखें 

अपने मोबाइल की सेट्टिंग में जाकर पिन लॉक को चालू कर दें, हम लापरवाही में या लॉक खोलने की असुविधा के चलते कई बार पिन लॉक चालू नहीं रखते, लेकिन ये सबसे आसान और ज़रूर है कि हम अपने मोबाइल पर पिन लॉक चालू रखें।

2. हमेशा उपयोग के बाद स्क्रीन लॉक कर दें 

जैसे ही मोबाइल का उपयोग करें, उसके बाद अपनी स्क्रीन को ख़ुद से लॉक ज़रूर करें, क्यों की कई बार स्क्रीन कुछ समय तक लॉक नहीं होती है और कोई अन्य हमारे फ़ोन के प्रयोग के तुरंत बाद हमारे फ़ोन को खोल कर उसका प्रयोग कर सकता है।

3. अनजान मुफ़्त वाई फ़ाई का प्रयोग ना करें 

कई बार हमें किसी स्थानों पर मुफ़्त वाई-फ़ाई मिलने लगता है, लेकिन क्या आप जानते हो कि वो मुफ़्त वाई फ़ाई आपके सभी लोगिन और डेटा को हैक कर सकता है।

इसलिए सिर्फ़ विश्वसनीय वाई-फ़ाई कनेक्शन का ही प्रयोग करें, ना कि किसी अनजान का।

4. एप सिर्फ़ अपने मोबाइल एप स्टोर से ही डाउनलोड करें 

बहुत से लिंक आपको सीधे किसी अन्य वेब्सायट से एप डाउनलोड कर के अपने फ़ोन पर इंस्टॉल करने के लिए कहते है, इन एप को इंस्टॉल करते समय आपको वॉर्निंग भी आती है, लेकिन आप अपने मोबाइल की सेट्टिंग बदल कर उन एप को इंस्टॉल कर देते हो।

ऐसा करने में बहुत ख़तरा है, ये एप किसी हैकर द्वारा वाइरस, जासूसी या हैकिंग कोड के साथ भी डाउनलोड हो सकते है, इससे आपके मोबाइल की सभी जनकारियाँ डिलीट होने या ग़लत हाथों में जाने का ख़तरा हो सकता है।

इसलिए एप हमेशा अपने मोबाइल के अफ़िशल एप स्टोर से ही डाउनलोड करें।

5. न प्रयोग करने पर ब्लूटूथ बंद करके रखें 

यदि आप ब्लूटूथ पर किसी भी प्रकार का डेटा ट्रान्स्फ़र नहीं कर रहे हो तो इसे बंद करके रखें क्यों कि ब्लूटूथ के माध्यम से आपके फ़ोन की जनकारियाँ और डेटा लीक हो सकता है।



6. App Lock एप इंस्टॉल करें 

अपने फ़ोन में संदेश, ईमेल, whatsapp जैसे एप पर अतिरिक्त सुरक्षा के लिए आप App Lock एप के माध्यम से पासवर्ड भी लगा सकते है।

पासवर्ड लगाने के बाद जब भी आप इन एप को खोलेंगे तो आपको अपना चुना हुआ पासवर्ड डालना पड़ेगा, ऐसा करने से आपके अलावा कोई भी इन एप को नहीं खोल पाएगा। 

अपने मोबाइल के एप स्टोर में जाकर आप App Lock लिखकर ऐसे एप खोज सकते है।

7. हमेशा अपने मोबाइल का सॉफ़्ट्वेर अप्डेट करके रखें 

अपने मोबाइल का सिस्टम सॉफ़्ट्वेर या अपने एप इनको हमेशा अप्डेट करके रखें, क्यों की बहुत बार सुरक्षा में पायी गयी किसी ख़ामी हो मोबाइल प्लैट्फ़ॉर्म अपने अप्डेट में दूर करती रहती है।

8. ऐंड्रॉड डिवाइस मैनेजर का प्रयोग करें 

ऐंड्रॉड मोबाइल खो जाने या इसके ग़लत हाथों में जाने पर आपको डिवाइस मैनेजर के माध्यम से अपने फ़ोन की स्थिति की जानकारी मिल सकती है, इसके लिए आप अपने मोबाइल पर इसे ज़रूर इंस्टॉल करके रखें।

इसे इंस्टॉल करने के बाद आप इस लिंक पर अपने फ़ोन की जानकरी ऑनलाइन देख सकते है।

9. किसी नए एप को पर्मिशन देते समय ध्यान रखें 

आप जब भी अपने फ़ोन में कोई एप इंस्टॉल करते है, उसे बहुत सी पर्मिशन देते है। ये पर्मिशन उस एप को आपके संदेश पढ़ने, आपकी लोकेशन जानने इत्यादि जैसी हो सकती है।

इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि क्या उस एप को उस पर्मिशन की आवश्यकता है, यदि हो तो ही उस एप को वो पर्मिशन देकर इंस्टॉल करें, अन्यथा ना करें।



10. अनजान लिंक्स पर क्लिक ना करें 

फ़ोन पर संदेश या ईमेल के ज़रिए किसी अनजान सेंडर के लिंक ना क्लिक करें, ये लिंक आपके फ़ोन में वाइरस या हैकिंग स्क्रिप्ट डाउनलोड कर सकते है।

हमेशा किसी वेबसाइट को गूगल से खोज कर या सही url पता ब्राउज़र में डाल कर ही उस वेबसाइट का प्रयोग करें।

11. मोबाइल सेक्यूरिटी एप का प्रयोग करें 

इसके अलावा आप अपने मोबाइल के एप स्टोर में जाकर Mobile Security App भी डाउनलोड कर अपने फ़ोन में इंस्टॉल कर सकते है, ये आपको फ़ोन को सुरक्षित रखने और हैकिंग से बचाने में मदद करेंगे।

आशा है आपको ये जानकरी उपयोगी लगी होगी, कॉमेंट से हमें ज़रूर अवगत करवाएँ।


अपना मोबाइल हैकिंग से कैसे बचाएँ Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Kheteshwar Boravat

0 Comments:

एक टिप्पणी भेजें